शिवाजी के बारे में रोचक बाते | Shivaji maharaj facts in hindi

0
302 views

Shivaji maharaj facts In Hindi

शिवाजी के बारे में रोचक बाते | Shivaji maharaj facts in hindi

1. शिवाजी मराठा साम्राज्य का संस्थापक थे उनका  जन्म 6 अप्रैल 1627 ईस्वी में शिवनेर दुर्ग में हुआ था।

2. शिवाजी के पिता का नाम शाहजी भोंसले एवं माता का नाम जीजाबाई था।

3.   शिवाजी के मंत्रिमंडल को अष्टप्रधान कहा जाता था अष्टप्रधान में पेशवा का पद सर्वाधिक महत्व एवं सम्मान का होता था।

4. शिवाजी के  दरबार में मराठी  भाषा बोली जाता थी  और इनकी  सेना तीन भागों में पागा सेना ,तिलहर दार, पैदल सेना बटी हुईं थी।

5. शिवाजी का विवाह साइबाई  निंबालकर से 1640 में हुआ।

6.   शिवाजी के समय कुल उपज का 33 % भाग राजस्व के रूप में वसूला जाता था जो बढ़कर 40% हो गया था।

7. शिवाजी ने मुगल व्यापारिक केंद्र  सूरत को दो बार लूटा था ।

8. शिवाजी की कर व्यवस्था मलिक अंबर की कर व्यवस्था पर आधारित थी।

9. शिवाजी को औरंगजेब ने मई 1666 में जयपुर भवन में कैद कर लिया जहां से वे 16 अगस्त 1666 में भाग निकले थे।

 

10.  “पुरंदर की संधि” 1665 ईस्वी में महाराजा जयसिंह और शिवाजी के बीच संपन्न हुई थी।

Shivaji maharaj facts In Hindi 11-18

11. 1656 ईस्वी में शिवाजी ने रायगढ़ को अपनी राजधानी बनाई और इसे औरंगजेब ने राजा की उपाधि दी ।

12. शिवाजी ने 1672 में पन्हाला दुर्ग को बीजापुर से छीना और  इस पर अपना अधिकार कर लिया।

13.  शिवाजी ने 5 जून 1674 को रायगढ़ में वाराणसी के प्रसिद्ध विधान श्री गंगा भट्ट द्वारा अपना अभिषेक करवाया गंगाभट्ट महाराष्ट्र का  एक सम्मानित ब्राह्मण था जो लंबे समय से वाराणसी में रह रहा था।

14. शिवाजी को अंग्रेजों ने तोपे  प्रदान की थी।

15. शिवाजी का उत्तराधिकारी संभाजी था संभाजी ने उज्जैन के हिंदी एवं संस्कृति के  विद्वान कवी कलश को अपना सलाहकार नियुक्त किया था।

16. अपने सैन्य अभियान में सबसे पहले शिवाजी ने बीजापुर के तोरण नामक पहाड़ी के पर अपना अधिकार किया था।

17. बीजापुर के सुल्तान ने आपने  सेनापति अफजल खा को शिवाजी को पराजित करने के लिए भेजा लेकिन  शिवाजी ने 10 नवंबर 1659 को अफजल खां की हत्या कर दी ।

18.  शिवाजी की मृत्यु मात्र 53 वर्ष की आयु में 3 अप्रैल 1680 को  मृत्यु हो गई।

19.  शिवाजी के अष्टप्रधान पेशवा, सारी- ए -नोबत, अमात्य वाकनिस, चिटनीस सुमंत, पंडितराव न्यायाधीश , को कहा जाता था ।

Related facts –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here