रावण के बारे में 30 रोचक तथ्य | Ravana Facts In Hindi

0
457 views

Ravana Facts In Hindi – रावण के बारे में कौन नहीं जनता है लेकिन इस पोस्ट में आपको रावण के बारे में रोचक तथ्य बताने वाले है unknown facts about ravan in hindi जिनको जानकार हैरान हो सकते है। जाने रावण के बारे में हैरान कर देने वाले 30 रोचक तथ्य। Interesting facts about ravan in hindi.

रावण का नाम सुनते ही हमारे मन में एक क्रूर राजा अहंकारी व्यक्ति एक असुर और सब कुछ तुच्छ समझने वाले घमंडी इंसान की छवि उभरती है लेकिन हमें बहुत ही कम लोग हैं जानते हैं कि रावण सर्व शक्तिशाली एक कुशल राजा अत्यंत बुद्धिजीवी और अपने परिवार की रक्षा के लिए किसी भी हद तक जा सकने वाला भगवान शिव का बहुत बहुत बड़े भक्त थे।

ravana facts in hindi

वैसे तो आप पर रावण के बारे में बहुत कुछ सुना और जानते होंगे लेकिन रावण के बारे में जो रोचक तथ्य इस पोस्ट में आपको बताने वाले है उनको जानकर आप जो आपके दिमाग में रावण के लिए छवि बनी है हो सकता है वह बदल जाए क्योंकि रावण की यह सच्चाई बहुत कम लोगों को ही पता है जो हम इस पोस्ट में आपको बताने वाले हैं।

तो चलिए जानते हैं Amazing facts about ravana in hindi रावण से जुड़े अद्भुत एवं अजब गजब हैरान कर देने वाले रोचक बातें Ravana facts in hindi  रावण के बारे में रोचक जानकारी।

 

 

रावण के बारे में 30 रोचक तथ्य Ravana Facts In Hindi

 
1. रावण बचपन से ही नहीं एक ब्राह्मण और ना ही एक राक्षस था रावण ऋषि विश्रवा का पुत्र थे जो कि विद्मान ब्राह्मण थे जब उसकी मां केकसी ऋषि विश्रवा की दूसरी पत्नी थी और वह एक क्षत्रिय राशि थी जिनको राक्षसी के नाम से भी जाना जाता है यही कारण था कि बचबान से ही रावण के पास ब्राह्मण जैसी बुद्धि और राक्षसों जैसी शक्ति विद्यमान थी।
 
2. श्रीलंका के प्राचीन इतिहास में सबसे कुशल और सबसे बुद्धिमान राजा रावण ही थे ये बाते इतिहास में लिखित है रावण के ही शासनकाल में श्रीलंका की प्रजा सबसे कुशल और समृद्ध रही थी।
 
3. आपको जानकर हैरानी होगी रावण की पूजा श्रीलंका में ही नहीं बल्कि भारत के दक्षिण राज्यों में रावण की पूजा होती है।
 
 
4. खानपुर का कैलाश मंदिर वर्ष में दशहरे के दिन एक बार खुलता है जहां पर रावण की पूजा की जाती है।
 
 
5 . रावण को संगीत का शौक था। वो संगीत जानते भी थे। उसे वीणा बजाना बहुत पसंद करते थे । 
 
6. रावण परम ज्ञानी थे। उसने 6 शास्त्रों की रचना की थी। रावण ने योग, धर्मा, कामा, अर्थ, मोक्ष और नाव्या शास्त्र लिखे।
 
7. ‘लंकेश्वर’ के अनुसार रावण शिव का परम भक्त, यम और सूर्य तक को अपना प्रताप झेलने के लिए विवश कर देने वाला, प्रकांड विद्वान थे ।
 
 
8. क्या आप जानते है कविताये लिखने में भी रावण पारंगत थे। रावण सिर्फ एक योद्धा नहीं थे उन्होंने बहुत सारी कविताये और श्लोक की रचनाये भी की थी शिव तांडव भी इन्ही रचना में से एक है।
 
9. रावण को सगीत का भी बहुत ज्ञान और शोक था रूद्र विणा बजने में रावण से कोई नहीं जित सकता थे रावण जब भी परेशान या चिंतित होता तो रूद्र विणा बजाने लग जाते थे।
10. दोस्तों राम नाम केआपको दुनिया में लाखों लोग मिलेंगे लेकिन रावण नाम का शायद ही कोई व्यक्ति होगा,  रावण सिर्फ एक ही थे।
 

रावण के बारे में रोचक जानकारी – Ravana Facts In Hindi 10-20 

 
11. अक्सर सुना होगा कि रावण के 10 सिर थे या आपने रामायण में भी देखा होगा कि रावण के 10 सिर है इसीलिए उन्हें दशानन कहा जाता था लेकिन वास्तव में रावण के 10 सिर नहीं थे वह 10 सिर होने का भ्रम पैदा कर देते थे ।
 
12. रावण को इतिहास का सबसे बड़ा बुद्धिमान ब्राह्मण माना जाता है कहा जाता है रावण एक बार किसी भी चीज को पढ़ने के बाद हमेशा के लिए ही उसको याद रख लेते थे फिर चाहे वह कितने ही कठिन स्लो किया प्राचीन पौराणिक ग्रंथ हो।
 
13. आप सब ने लाल किताब के बारे में तो जरूर सुना होगा इस किताब की रचना भी रावण द्वारा ही की गई थी और लाल किताब को मूल रूप से अरुण संहिता के नाम से ही जाना जाता है।
 
14. क्या आप जानते हैं रावण संगीत कला में भी महारथी थे इसका प्रमाण माता सरस्वती के हाथ में स्थित रूद्र वीणा है जिसका निर्माण रावण ने अपने सर भुजा और धमनियों से ही किया है रावण रूद्र वीणा बजाने में मैं पारंगत थे 
15. रावण को रावण का नाम भगवान शिव ने ही दिया था और रावण नाम का अर्थ होता है तेज तेज दहाड़ना।
 
16. रावण सर्व शक्तिशाली भी थे  जिसका प्रमाण इसी बात से लगता है कि रावण तीनों लोकों का स्वामी थे उसने इंद्रलोक ही नहीं बल्कि भू लोक के कुछ हिस्सों में असुरों की ताकत से उन पर कब्जा करा था।
 
17. रावण सदैव ही वीर योद्धा की तरह अपने सेना की अगुवाई किया करता था और बहुत से युद्ध उसने बिना अपने शौर्य के दम पर जीते थे यहां तक कि रावण ने यमपुरी जाकर यमराज को युद्ध के लिए ललकारा था और उन्हें हराया और नर्क में सजा पा रहे जीव आत्मा को यमलोक से मुक्त कराया और उन्हें अपनी सेना में भर्ती करवाया ।
 
18. माना जाता है जब उसके पुत्र मेघनाथ का जन्म हुआ था तो उसने सभी ग्रह को 11 वे स्थान पर रहने के लिए कहा था ताकि उसके पुत्र को अमरता मिल सके लेकिन शनि महाराज 11 वे स्थान की जगह बारहवें स्थान पर जाकर विराजमान हुए रावण इस घटना से इतना क्रोधित हुआ कि उसने शनि देव पर ही आक्रमण कर दिया।
 
18. और कहा जाता है कुछ अवधि के लिए रावण ने शनि महाराज को अपना बंदी बना लिया था।
 
19. रावण एक आदर्श भाई और आदर्श पति भी थे क्योकि उसने अपनी बहन शूर्पणखा का अपमान का बदला लेने के लिए वह कदम उठाया जो आगे चलकर उसके विनाश का कारण बना और वहीं दूसरी तरफ अपने पत्नी को बचाने के लिए वह उस यज्ञ से उठ गया जिसे वह भगवान श्री राम की पूरी सेना को तबाह कर सकता था।
 

Facts About Ravana In Hindi -रावण के बारे में रोचक तथ्य

 
20. इसके अलावा जब कुंभकरण को ब्रह्मा जी ने हमेशा के लिए नींद में रहने का वरदान दिया था तो रावण ने तपस्या करके उसकी अवधि को 6 महीने करवा दिया था जिससे पता चलता है कि रावण अपने भाई बहनों और पत्नी की कितनी फिक्र करता थे।
 
21. क्या आपने सुना है श्रीलंका के पूर्वज का मानना है कि रावण का शरीर आज भी श्रीलंका के जंगलों में किसी को पा में रखा गया है वहां के लोग मानते हैं कि रावण के वध के बाद नाग जाति के लोग रावण को कहीं विधियों से जीवित करने का प्रयास किया था लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली।
 
22. तो वो  उनके शरीर को उठाकर ले गए और उनके शरीर पर जड़ी बूटियों का लेप लगाकर एक ताबूत में सुरक्षित रखकर उस ताबूत को किसी गुफा में छुपा में रख दिया क्योकि उन्हें यह उम्मीद थी कि अगर लक्ष्मण को संजीवनी बूटी से दोबारा जीवित किया जा सकता है तो उसी से संजीवनी बूटी से रावण को भी जीवित किया जा सकता है।
 
 

23 क्या आप जानते है लंका का निर्माण विश्वकर्मा जी ने किया था और जब उस पर रावण के सौतेले भाई कुबेर का कब्जा था | पर जब रावण तपस्या से लौटा था तब उसने कुबेर से पुरी लंका छीन ली थी | ऐसा कहा जाता है रावण के राज में गरीब से गरीब का घर भी उसने सोने का कर दिया था जिसके कारण उसकी लंका नगरी में खूब ख्याति थी ।

24. हमें हमेशा ही देखने और पड़ने को मिलता है कि रावण ने सीता का हरण किया था जबकि जैन ग्रंथो की रामायण के अनुसार रावण ही सीता के पिता थे जो एक हिन्दू धर्म के लोगो को बहुत अजीब बात लगती है।

25. क्या आप जानते हैं जैन ग्रंथों में और जैन धर्म में रावण की पूजा की जाती है। 

26. रावण और कुंभकर्ण वास्तव में भगवान विष्णु के द्वारपाल जय और विजय थे जिनको एक ऋषि से मिले श्राप के कारण राक्षस कुल में जन्म लेना पड़ा था ।

27. और अपन ही आराध्य से उनको लड़ना पड़ा था राम -रावण के बातचीत में एक बार राम जी ने रावण को महा-ब्राहमण कहकर पुकारा था क्योंकि रावण 64 कलाओं में निपुण थे 

28. जिसके कारण उसे असुरो में सबसे बुद्धिमान व्यक्ति बनाया थे ।

29. रावण ने अपने जीवन काल में लगभग अपनी सभी इच्छाएं पूरी करी लेकिन रावण के कुछ इच्छाएं अधूरी रह गई थी ।

30. रावण चाहते ते कि उनके महल में सोने की सुगंध आए और मदिरा की दुर्गम समाप्त हो जाए और साथ ही वह स्वर्ग तक सिडिया बनाई और समुद्र के खारे पानी को मीठा पानी के रूप में हो जाए ।

31. और रावण चाहता थे कि सभी लोग गोरे दिखाई दे कोई भी काले रंग का ना हो।

रावण के बारे में बताने के लिए हजारे किताबें भी कम पड़ेगी क्योंकि वह एक बहुत ही विद्वान और महा ज्ञानी होने के साथ-साथ बहुत शक्तिशाली लंका के राजा थे ।

लेकिन हमने इस पोस्ट में कुछ रावण की खास बातें (Amazing facts about ravana in hindi) बताइए जो सचमुच हैरान कर देने वाले है आशा करता हूं रावण के रोचक तथ्य लेख (unknown Facts About Ravan In Hindi) आपको जरूर पसंद आया होगा तो कमेंट करके आप जरूर बताएं कि रावण के बारे में आपके क्या विचार है कि रावण किस तरह का महापुरुष विद्वान या ब्राह्मण राक्षस थे।

और Interesting Facts About Ravana In Hindi रावण के रोचक तथ्य के बारे में लेख को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।

Popular Posts –

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here